Sad Shayari Love

Sometimes we feel sad and want to express our sadness. So Sad Shayari is the best option to express your inner sadness on social networks. Here we are having a large collection of Sad Shayari in Hindi on this page. You can choose or select all type of Shayari according to your mood and share it where you want.

Sad Love Shayari

दर्द को छुपाए बैठा रहा, आंखों की नमी को छुपाए बैठा रहा, उम्मीद टूटी नहीं है अभी भी, तेरे लौट आने की खुशी में बैठा रहा।

भुला कर हमें क्या वो खुश रह पाएंगे, साथ में नही तो मेरे जाने के बाद मुस्कुरायेंगे, दुआ है खुदा से की उन्हें कभी दर्द न देना, हम तो सह गए पर वो टूट जायेंगे।

चाहत वो नहीं जो जान देती है, चाहत वो नहीं जो मुस्कान देती है, ऐ दोस्त चाहत तो वो है, जो पानी में गिरा आंसू पहचान लेती हैं।

आप से दूर हो कर हम जायेंगे कहा, आप जैसा दोस्त हम पाएंगे कहा, दिल को कैसे भी संभाल लेंगे, पर आँखों के आंसू हम छुपायेंगे कहा।

दर्द तो बहुत है दिल में, पर दिखा नही सकते, करते है मोहब्बत तुमसे पर बता नही सकते।

रह न पाओगे भुला कर देख लो, यकीं न आये तो आजमा कर देख लो, हर जगह महसूस होगी मेरी कमी, अपनी महफ़िल को कितना भी सजा कर देख लो।

बिन बात के ही रूठने की आदत है, किसी अपने का साथ पाने की चाहत है, आप खुश रहें, मेरा क्या है, मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।

दर्द से दोस्ती हो गई यारों, जिंदगी बे दर्द हो गई यारों, क्या हुआ जो जल गया आशियाना हमारा, दूर तक रोशनी तो हो गई यारो।

परछाई आपकी हमारे दिल में है, यादे आपकी हमारी आँखों में है, कैसे भुलाये हम आपको, प्यार आपका हमारी साँसों में है।

इश्क़ सभी को जीना सिखा देता है, वफ़ा के नाम पर मरना सीखा देता है, इश्क़ नहीं किया तो करके देखो, ज़ालिम हर दर्द सहना सीखा देता है।

 

तेरी आँखों में जब से मैंने अपना अक्स देखा है, मेरे चेहरे को कोई आइना अच्छा नहीं लगता।

भुला देंगे हम अपना गम सारा, मिला दे रब जो हमको तुमसे दोबारा।

तुझे भूलकर भी न भूल पायेगें हम, बस यही एक वादा निभा पायेगें हम, मिटा देंगे खुद को भी जहाँ से लेकिन, तेरा नाम दिल से न मिटा पायेगें हम।

बीते पल वापस ला नहीं सकते, सूखे फूल वापस खिला नहीं सकते, कभी कभी लगता है आप हमें भूल गए, पर दिल कहता है कि आप हमें भुला नही सकते।

 

न समझ मैं भूल गया हूँ तुझे, तेरी खुशबू मेरे सांसो में आज भी हैं । मजबूरियों ने निभाने न दी मोहब्बत, सच्चाई मेरी वफाओ में आज भी हैं।

वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही, इश्क़ में प्रेमी कभी झुकता नही, खामोश हैं हम किसी के खुशी के लिए, ना सोचो के हमारा दिल दुःखता नहीं।

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता, इश्क़ में मरीज को आराम नहीं आता, ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता, के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता।

 

इश्क़ में कोई खोज नहीं होती, यह हर किसी से हर रोज नहीं होती, अपनी जिंदगी में हमारी मौजूदगी को बेवजह मत समझना, क्योंकि पलके कभी आँखों पर बोझ नहीं होती।

मैं ख़ामोशी तेरे मन की, तू अनकहा अलफ़ाज़ मेरा, मैं एक उलझा लम्हा, तू रूठा हालात मेरा।

फ़ासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना, मुहब्बत बार बार इंसान पर मेहरबान नहीं होती।

Leave a Reply