B.Tech Full Form

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email

B.Tech (बीटेक) का फुल फॉर्म या मतलब  Bachelor of Technology (बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी)  होता है।

बीटेक एक 4 साल का अंडर ग्रेजुएट कोर्स है, जिसे करने के बाद स्टूडेंट को इंजीनियर की उपाधि मिल जाती है।

इसी कोर्स को बीई यानी बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग या इंजीनियरिंग भी कहते हैं।

बीटेक एक टेक्निकल कोर्स है जिसके दौरान छात्र अपने मनपसंद फील्ड के बारे में सब कुछ सीखते हैं।

B.Tech full form in Hindi

तो जो स्टूडेंट्स इंजीनियरिंग के फील्ड में अपना कैरियर बनाने में इंटरेस्टेड हैं उनको बी टेक कोर्स करनी चाहिए।

जैसा कि आप जानते हैं इंजीनियरिंग का मतलब है कुछ नया करना, तो अगर आप भी कुछ नया करने में इंटरेस्टेड है, तो आपको बी टेक कोर्स ज्वाइन करना चाहिए।

इस कोर्स के दौरान आपको प्रैक्टिकल और थियोरेटिकल मेथड से, आपके ब्रांच से जुड़ी सारी टेक्निकल बातें पढ़ाई जाती हैं।

B.Tech (बीटेक) / इंजीनियरिंग के लिए पात्रता

कोई भी स्टूडेंट अगर बीटेक करना चाहता है तो उसे निम्न शर्तों को पूरा करना होता है-

  • भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित विषय के साथ न्यूनतम योग्यता 10 + 2
  • अधिकांश कॉलेजों में +2 या इंटरमीडिएट में न्यूनतम प्रतिशत 50 से ऊपर होना चाहिए।
  • जिन छात्रों ने पॉलिटेक्निक या डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग पूरी कर ली है, वे भी सीधे दूसरे वर्ष में बीटेक या इंजीनियरिंग कोर्स में शामिल हो सकते हैं।

B.Tech (बीटेक) कोर्स में प्रवेश

अगर कोई छात्र भारत में बीटेक कोर्स करना चाहता है, तो वह दो तरीकों से किसी भी इंजीनियरिंग कॉलेज में बीटेक कोर्स में प्रवेश ले सकता है-

  • प्रवेश परीक्षा के माध्यम से इंजीनियरिंग प्रवेश
  • इंजीनियरिंग में सीधे प्रवेश

बीटेक प्रवेश के लिए शीर्ष प्रवेश परीक्षा

  • JEE MAIN- IIT, NIT और भारत के अन्य शीर्ष कॉलेजों के लिए
  • जेईई एडवांस- केवल आईआईटी के लिए
  • बिट्सैट- बिट्स पिलानी कॉलेज के लिए
  • SRMJEEE- कॉलेजों के SRM समूह के लिए
  • VITEEE- वीआईटी कॉलेज के लिए
  • MIT- मणिपाल इंजीनियरिंग कॉलेज के लिए
  • KITEE- कलिंग इंजीनियरिंग कॉलेज, भुवनेश्वर के लिए
  • WBJEE- पश्चिम बंगाल इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए

बीटेक के लोकप्रिय शीर्ष शाखाएँ

इंडिया में 50 से भी ज्यादा बीटेक के ब्रांचेज पढ़ाए जाते हैं, जिनमें से प्रमुख निम्न है

  • अंतरिक्ष(Aerospace) इंजीनियरिंग
  • एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग
  • ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग
  • कृषि इंजीनियरिंग
  • बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
  • बायोटेक इंजीनियरिंग
  • बायो-केमिकल इंजीनियरिंग
  • रासायनिक अभियांत्रिकी
  • सिविल इंजीनियरिंग
  • कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग
  • जनन विज्ञानं अभियांत्रिकी
  • इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी
  • मरीन इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • नैनो टेक्नोलॉजी
  • परमाणुवीय इंजीनियरिंग
  • प्लास्टिक इंजीनियरिंग
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग

बीटेक के टॉप कॉलेज

इंडिया में 5000 से ज्यादा इंजीनियरिंग कॉलेज हैं, जिनमें अधिकतर प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज हैं, कुछ प्रमुख फेमस इंजीनियरिंग कॉलेजेस के नाम निम्न है-

  • इंडियन इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी मद्रास
  • इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी न्यू दिल्ली
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी बॉम्बे
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी पटना
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी खरगपुर
  • इंडियन इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी कानपुर
  • अन्ना यूनिवर्सिटी चेन्नई
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी त्रिची
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी राउरकेला
  • वेल्लोर इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी, वेल्लोर
  • एसआरएम इंस्टीट्यूट आफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी, चेन्नई
  • बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, पिलानी
  • मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मणिपाल

बीटेक कोर्स फीस

बीटेक कोर्स के लिए ट्यूशन फीस अलग-अलग कॉलेजेस के लिए अलग-अलग होता है, जहां सरकारी कॉलेजेस का ट्यूशन फीस कम होता है, वहीं प्राइवेट कॉलेज का ट्यूशन फीस ज्यादा होता है।

इंडिया में बीटेक कोर्स का ट्यूशन फीस 40000 पर ईयर से लेकर 500000 per year भी हो सकता है जो पूरी तरह कॉलेज और ब्रांच के ऊपर डिपेंड करता है।

बीटेक कोर्स का स्कोप

अगर किसी स्टूडेंट ने एक अच्छे कॉलेज से अच्छे ढंग से पढ़ाई किया है, तो वह एक अच्छे भविष्य की उम्मीद कर सकता है।

बीटेक करने के बाद एक अच्छी नौकरी अच्छी सैलरी के साथ मिलना बहुत आसान हो जाता है

अधिकतर स्टूडेंट्स को एक अच्छी नौकरी मिल जाती है और कुछ को तो करोड़ों ke package में भी प्लेसमेंट मिला है।।

बहुत सारे स्टूडेंट, इंजीनियरिंग करने के बाद आगे मास्टर ऑफ टेक्नोलॉजी मतलब एमटेक कोर्स भी करते हैं, ताकि वह रिसर्च के field me जा सके।

बी.टेक कोर्स के बाद भूमिकाएँ-

B.tech पाठ्यक्रम के बाद अधिकांश छात्रों को निम्नलिखित भूमिकाएँ मिल रही हैं-

  • इंजीनियर
  • कनीय अभियंता
  • व्याख्याता
  • बैंकर
  • शोधकर्ता

B.tech में सबसे अच्छा कोर्स कौन सा है?

बीटेक के सारे कोर्स ही अच्छे हैं, और डिमांड में है इसीलिए चल रहे हैं ।
आपको अपने इंटरेस्ट aur jarurat के अनुसार चुनना होगा, कि आपके लिए सबसे अच्छा ब्रांच कौन सा होगा।
वहीं अगर देखा जाए तो अभी सबसे ज्यादा डिमांड कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग का है, कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग करने वाले अधिकतर बच्चों को अच्छी नौकरी, अच्छे पैकेज के साथ मिल जाती है।

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email